राज्य के मेट्रिक से लेकर इंटरमीडिएट तक के सभी परीक्षार्थी किये जायेंगे टीकाकृत ..

• अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलाधिकारी एवं सिविल सर्जन को दिए निर्देश
• जिला एवं प्रखंडस्तरीय टास्क फ़ोर्स का होगा गठन
• 26 जनवरी तक सभी परीक्षार्थी के पूर्ण टीकाकरण का लक्ष्य

बक्सर : जिला में 3 जनवरी से किशोरों के कोविड टीकाकरण की मुहीम लगातार जारी है. राज्य सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग ज्यादा से ज्यादा लाभार्थियों को टीकाकरण के सुरक्षा चक्र के अंदर लाने हेतु प्रयासरत है. अब निकट भविष्य में राज्य में मेट्रिक एवं इंटरमीडिएट परीक्षाएं आच्छादित की जाने वाली हैं. इनमे काफी संख्या में परीक्षार्थी शामिल होंगे. ऐसी स्थिति में सभी परीक्षा केंद्रों पर भीड़ जुटने की संभावना है. इसे ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य विभाग 15 से 18 वर्ष के सभी विद्यार्थियों को टीकाकृत करने की मुहीम चलाने जा रहा है जो इन परीक्षाओं में शामिल होंगे. इस बाबत प्रत्यय अमृत, अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलाधिकारी एवं सिविल सर्जन को पत्र जारी कर आवश्यक दिशानिर्देश दिए हैं. जारी पत्र में निर्देशित है कि उक्त परीक्षाओं में काफी संख्या में 15 से 18 वर्ष के योग्य लाभार्थी सम्मिलित होंगे. ऐसे मेंलाभार्थियों की भीड़ जुटने से कोविड संक्रमण के प्रसार की संभावना है और इसके रोकथाम के लिए आवश्यक है कि सभी योग्य लाभार्थियों का टीकाकरण परीक्षा से पूर्व पूर्ण कर लिया जाये.

जिला एवं प्रखंडस्तरीय टास्क फ़ोर्स का होगा गठन:

जारी पत्र के अनुसार टीकाकरण कार्य के ससमय आच्छादन के लिए जिला एवं प्रखंड स्तर पर टास्क फ़ोर्स का गठन किया जाना है. निम्न अधिकारीगण इन टास्क फ़ोर्स में शामिल रहेंगे-

जिला स्तरीय टास्क फ़ोर्स:

(1)- सिविल सर्जन
(2)- जिला शिक्षा पदाधिकारी
(3)- जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी
(4)- जिला कार्यक्रम प्रबंधक
(5)- सहयोगी संस्था के प्रतिनिधि

प्रखंड स्तरीय टास्क फ़ोर्स- जारी पत्र के अनुसार यह बैठक प्रखंड विकास पदाधिकारी की अध्यक्षता में प्रतिदिन किया जाना है एवं इसमें निम्नलिखित अधिकारी शामिल होंगे:

(1)- प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी
(2)- प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी
(3)- प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक
(4)- सहयोगी संस्था के प्रतिनिधि

प्रतिदिन होगी समीक्षा:

जारी पत्र में निर्देशित है कि जिला एवं प्रखंड स्तर पर पर्तिदिन संध्या बैठक के दौरान कार्यों की समीक्षा अनिवार्य रूप से की जाये तथा ऐसे विद्यालय जिन्होंने टीकाकरण का लक्ष्य शत प्रतिशत प्राप्त कर लिया है उन्हें गणतंत्र दिवस के मौके पर सम्मानित किया जाये.

Share
error: Content is protected !!