चौसा थर्मल पॉवर में रोजगार मुहैया कराने को लेकर ने स्थानीय लोगों ने उठाया अवाज…

बक्सर : चौसा थर्मल पॉवर में रोजगार मुहैया कराने को लेकर ने स्थानीय लोगों ने आज बुधवार के दिन आवाज उठाया । जहा स्थानीय लोग एवं स्थानीय मजदूर यूनियन के लोगो के द्वारा एमएचआई पावर ऑफिस के बाहर जमकर नारे बाजी किए। मौजूद सभी आक्रोशित लोगों प्रोजेक्ट के हेड अरुण सिंह को बुलाने की मांग करते रहे। परंतु काफी देर हो जाने के बाद भी अरुण सिंह अपने ऑफिस पर नही पहुंचे। लेकिन इस बात की सूचना जैसे ही एलएनटी के अधिकारी कर्नल पीएम केशर को लगी वह मौके पर पहुंच कर आक्रोशित लोगों को समझा बुझाकर उन्हें शांत किए।

बताते चलें कि चौसा थर्मल पावर का निर्माण कार्य मे जो एमएचआई पॉवर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बायलर्स बनाने का कार्य कर रही है। उसमें स्थानीय लोगों को काम नहीं मिल रहा है उन्होंने ने कहा स्थानीय लोगों का आरोप है की कंपनी कें प्रोजेक्ट हेड अरुण सिंह के द्वारा लोकल लोगो की बजाय बाहर से लोगो को बुला कर रोजगार दिया जा रहा है। जबकि लोकल लोगो के पास भी सर्टिफिकेट और कार्य करने का अनुभव पूरी तरह से है। उन्होंने यह भी कहा इस तरह से मनमानी कोई भी बर्दास्त नही करेगा। क्योकी निर्माण कार्य से होने वाले परेशानियों को हमलोग झेले रहे है। दूसरी तरफ बेरोजगारी का भी मार हमलोग ही झेलेगे ऐसा नही चलेगा। वही, मजदूरों के नेतृत्व कर रहे बक्सर चौसा थर्मल पावर मजदूर यूनियन के अध्यक्ष अर्जुन यादव ने मीडिया को बताया कि कंपनी अपने वादे पर खरी नही उतर रही है।लोकल लोगो को काम देने के नाम पर केवल खानापूर्ति की जा रही है ओर बाहर के राज्यो से लोगो बुला कर काम दिया जा रहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि जब भी यहाँ के लोगो द्वारा अपने हक की बात कही जाती है। कम्पनी के अधिकारियों के द्वारा लोगो को जेल भेजवाने की धमकी दी जा रही है। जो कि बर्दास्त से बाहर है।

वही, इस बात की सूचना पर पहुंचे एलएनटी कम्पनी के अधिकारी कर्नल पीएम केशर द्वारा आक्रोशित लोगों को समझाने का कार्य किया गया। उन्होंने स्थानीय लोगों को बताया कि हमारा प्रयास रहेगा कि लोकल लोगो को रोजगार दिया जाए आप लोग निश्चित रहे। आपलोग डाकमेन्ट और अनुभव के साथ सम्पर्क करें योग्यता के हिसाब से काम दिया जायेगा। वही बक्सर चौसा थर्मल पावर मजदूर यूनियन के अध्यक्ष अर्जुन यादव ने मीडिया को बताया गया कि बात कोई ज्यादा सन्तोष जनक तो नही हुई है। फिर भी इनके द्वारा दिये गए समय का इंतजार करते है।

Share
error: Content is protected !!