स्वर्ण व्यवसायी से फोन पर 15 लाख की रंगदारी मांगने वाले दो आरोपितों को पुलिस ने किया गिरफ्तार ..

बक्सर : बक्सर पुलिस को एक बार फिर एक बड़ी सफलता हाथ लगी है. ताजा मामला यह है कि बक्सर पुलिस ने स्वर्ण व्यवसाई चंदन वर्मा से ₹1500000 रुपये की रंगदारी मांगने वाले दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है साथ ही दोनों के पास से दो कीपैड मोबाइल भी बरामद कर ली है.वही पुलिस ने दोनों से पूछताछ करने के बाद दोनों को जेल भेज दिया. दोनों गिरफ्तार आरोपित नई बाजार का रहने वाला धर्मेंद्र कुमार और सिविल लाइन का रहने वाला अभिषेक कुमार सिंह बताया जाता है.

इस बात की जानकारी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सदर एसडीपीओ गोरख राम ने बताया कि 18 मई को पीपी रोड के रहने वाले स्वर्ण व्यवसाई चंदन वर्मा से अपराधियों ने फोन कर 15 लाख  रुपए की रंगदारी मांगी थी. साथ ही रंगदारी नहीं देने पर अनजाम बुरा हो जाएगा कहा गया था. वहीं घटना के बाद स्वर्ण व्यवसाई चंदन वर्मा ने इसकी सूचना नगर थाने की पुलिस को दे दिया. सूचना मिलते ही नगर थाने की पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया साथ अपराधियों की गिरफ्तारी को लेकर लगातार छापेमारी करने में जुट गई. साथ ही साथ जिस नंबर से फोन आया था उस नंबर की भी जांच शुरू कर दिया गया था. इसके बाद एसपी नीरज कुमार सिंह ने पूरे मामले की जांच करने के लिए एक टीम का गठन किया. जिसमें  प्रशिक्षु पुलिस उपाधीक्षक अमरनाथ, नगर थानाध्यक्ष  दिनेश कुमार मालाकार, डीआईयू प्रभारी राजेश मालाकार प्रभारी, रंजीत कुमार,  रंजीत कुमार सिन्हा और अमित कुमार के नेतृत्व में टीम बनाया गया. जब टीम ने मामले की जांच शुरू किया तो पता चला कि नई बाजार का रहने वाला धर्मेंद्र कुमार फोन इस्तेमाल कर रहा है.  सूचना मिलते ही नगर थाने की पुलिस ने शनिवार की सुबह उसके घर छापेमारी कर उसे गिरफ्तार किया. साथ ही घटना में प्रयोग किया गया मोबाइल बरामद किया गया. जब पूछताछ की गई तो उसने अपने एक साथ ही सिविल लाइन निवासी अभिषेक कुमार सिंह का नाम बताया.  जहां पुलिस ने छापेमारी कर अभिषेक को गिरफ्तार किया. साथ ही उसके पास से घटना में प्रयोग की गई एक और मोबाइल बरामद किया. पुलिस ने जब दोनों से  पूछताछ किया तो पूछताछ के क्रम में बताये की हमलोगों को पैसे की आवश्यकता थी तो हमलोग सोचे की स्वर्ण व्यवसायी चन्दन वर्मा से रंगदारी मांगा जाए. क्योंकि दोनों के  घर सोना-चाँदी कि खरीदारी चंदन के दुकान से होती है. अगर इनसे रंगदारी में पैसे की माँग की जाती है तो इनसे आसानी से पैसा मिल सकता है.  इसके बाद दोनों ने एक प्लान के तहत इनको फोन करके 15 लाख रुपया रंगदारी की मांग किये और रंगदारी का पैसा नहीं देने पर अंजाम भुगतने का धमकी दिए. 

Share
error: Content is protected !!